आज के मुहूर्त --(रविवार 27 मार्च 2011) -----
शुभ विक्रम संवत- 2067, शालिवाहन शक संवत- 1932, संवत्सर का नाम- शोभन, अयन- उत्तरायन,
ऋतु- वसंत, मास- चैत्र, पक्ष- कृष्ण, तिथि- नवमी अहोरात्र, हिजरी सन्- 1432, मु. मास- रबिलाखर, तारीख- 21,
नक्षत्र- पूर्वाषाढ़ा रात्रि 10.26 पश्चात उत्तराषाढ़ा, योग- परिध मंगलरात्रि 5.36 पश्चात शिव,
सूर्योदयकालीन करण- तैतिल, चन्द्रमा- धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश मंगलरात्रि 4.52 पर करेंगे।
दिन- सामान्य। दिशाशूल- पश्चिम ‍में। कार्य की अनुकूलता के लिए- सूर्य को रक्तपुष्प मिश्रित जल देकर सात बार घूमें।
उपयोगी ज्ञान- यज्ञ आदि पुण्य कार्य के निमंत्रण पत्र को जलाने से दोष लगता है व हानि होती है।
शुभ समय- प्रात: 6.53 से 8.48 दिन 12.38 से 02.26।
सुझाव- आवश्यक न हो तो प्रात: 05.06 से 6.38 के मध्य शुभ कार्य न करें।
Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours