एक कल्पना कीजिए  .....
जिसने जन्म लिया है उसे एक दिन अवश्य मरना भी हैआपको भी दिन बाद मरना है.  3 दिन बाद आपको फांसी दे दी जायेगी.  आपकी मौत निश्चित है....
अब आप उस मौत के दर्द को महसूस कीजिये ..... आपका परिवार और सब कुछ  छूट जायेगा .....
क्या आप अपने गले मे फांसी का फन्दा सोच कर कांप गये ????
अब सोचो भगत सिंह जैसे अनगिनत शहीदों को जो हंसते हंसते देश के लिये फांसी पर चढ़ गये थे  .....
महसूस करो उनके दर्द कोऔर देखो आज के  भ्रष्टाचार से भरे भारत को क्या ऐसा भारत बनाने के लिये उन्होने अपनी जान की कुर्बानी दी थी ....
अब मरने की कल्पना से बाहर आइये और सोचिये ......
जब वो लोग देश के लिये मर सकते है तो क्या आप देश के लिये जी भी नहीं सकते ?????????
देश के लिये जिएँ  और अच्छा भारत बनाएँ,  अपने आप से शुरुआत  करें. आप बदलेंगे तभी देश बदलेगा .
भगवान आपको लम्बी उम्र  दे .........

अब एक और कल्पना कीजिये ...............
आप लम्बी उम्र जिएँ,  लेकिन ना आप बदलें,  ना देश बदले, 20-25 साल बाद आपके बच्चेपोतेनाती सब एक ऐसे देश मे जी रहे हों जिसकी हालत सोमालिया आदि देशो से भी बदतर हैबेहिसाब आबादी है हर तरफ मारकाट मची है,  कोई कानून नहीं है,  जंगलराज की सी हालत है सभी जातियाँ कबीलों की तरह लड़  रही है . भूख से बेहाल गरीब अमीरों को लूट रहें हैंअमीर उनपर गोलियां चला रहे हैं ,  एक पल का भी भरोसा नहीं है कब कौन आपके बच्चों को अनाथ कर दे या बच्चो का अपहरण कर ले.  
क्या आप अपने बच्चों को ऐसा भारत देना चाहते हो ?  आप अपने  बच्चों को हर चीज देते है अच्छी शिक्षा अच्छे कपड़ेअच्छे गेजेट्स ....
फिर क्या आप उन्हे अच्छा भारत नहीं देंगे ??????
एक लाख अस्सी हजार करोड़  (18,00,00,00,00,000) का  2G स्पेक्ट्रम घोटालासत्तर हजार करोड का CWG घोटाला जैसे अनेक घोटालों ने देश को हिला कर रख दिया है. और आप चुपचाप हैआप कर भी क्या सकते है ?
आप सबकुछ कर सकते है आप ही ने उन नेताओ को वोट देकर नेता बनाया था............
आप क्या क्या कर सकते हैं  ?
1. देश मे भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त कानून (जन लोकपाल) बनाने के लिये "भारत बनाम भ्रष्टाचार"  के बेनर तले देश में एक अन्दोलन चल रहा है जिसका नेतृत्व गणमान्य लोग जैसे स्वामी रामदेवश्री रवि शंकर,   अन्ना हजारेमहमूद मदानीदिल्ली के आर्कबिषपकिरण बेदीअरविन्द केजरीवालस्वामी अग्निवेशन्यायमूर्ति  लिंगदोह , मल्लिका साराभाइ आदि अनेक लोग कर रहे  हैं (अधिक जानकारी के लिये साइट देखें  http://www. indiaagainstcorruption.org/)

2. लोकतंत्र मे आप सबसे ताकतवर  हैं क्योंकि आप से वोट से सरकार बनती है,  सोचसमझ कर वोट दें ,  सिर्फ जाति और धर्म के आधार पर वोट ना दें .  भारत के सभी सभ्य और ईमानदार लोगभ्रष्टाचार  के खिलाफ एकजुट होकर एक वोट बैंक बना रहे  हैं आप उसमें  अपने आप को रजिस्टर करें  (http://voteforindia. org/).
3. अगर आप फेसबुक का उपयोग करते  हैं तो  जुड़ जाएं  http://www.facebook.com/ IndiACor  से  इस लिंक पे क्लिक करे और फिर like पर क्लिक करे )
4. शक्ति संघे कलयुगे ( कलयुग में संगठन ही सबसे बड़ी  शक्ति  है ) आज देश के सभी भ्रष्ट लोग (20% ) संगठित हैं  , जबकि हम सभी ईमानदार ( 80%) लोग बिखरे पड़े हैं जिस से भ्रष्ट लोग हावी हैं,  और हम  लोगो को संगठित नहीं होने देतेहमे धर्मजातिक्षेत्र आदि के नाम पे लड़वाते हैं जिस से हम एक ना हो. तथा देश की अधिकतर आबादी अनपढ़  बनी रहे. शोषित होने के लिये बाध्य रहे. आप संगठित बनोअपने दोस्तो को पड़ोसियों को इस अन्दोलन के बारे में बताएं   (फूट डालो और राज करो की कुनीति  पहले अंग्रेज अपनाते थे अब ये नेता अपना रहे हैं )


जय हिन्द

Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours