गुरुवार को क्या करना चाहिए ?????



ज्योतिष शास्त्र में गुरु अर्थात् बृहस्पति ग्रह को विवाह के संबंध महत्वपूर्ण ग्रह माना जाता है। किसी व्यक्ति का विवाह कब होगा? यह काफी हद तक बृहस्पति की दशा पर निर्भर करता है। यदि आपका विवाह होने में कोई बाधा आ रही है तो आप गुरुदेव अर्थात् बृहस्पति ग्रह की विशेष पूजा-अर्चना कर उन्हें खुश करें, निश्चित ही आपके विवाह की सारी अड़चने समाप्त हो जाएगी। यह कुछ उपाय दिए जा रहे हैं जिनसे बृहस्पति देव जल्द ही प्रसन्न हो जाते हैं:

- यदि आपकी कुंडली में गुरु अशुभ प्रभाव दे रहा है तो आप पीला रंग निजी उपयोग में ना लें। पीला रंग बृहस्पति का रंग है। जिससे वह और अधिक सक्रिय हो जाता है। यदि आपकी कुंडली बृहस्पति शुभ फल देने वाला है तो पीला रंग अधिक से अधिक उपयोग में लाएं। जिससे आपकी बहुत सारी समस्याएं जल्द से जल्द समाप्त हो जाएंगी।

- प्रति गुरुवार घोड़े को चने की दाल खिलाएं। विवाह जल्दी होगा।

- दान या उपहार में पीले रंग की वस्तु ना लें।

- नहाने का पानी में कुछ सोना डुबोकर रखें फिर उस जल से स्नान करें।

- भगवान विष्णु की नित्य पूजा करें।

- अपने गुरु को, किसी गरीब को, ब्राह्मण को या किसी सुहागिन स्त्री को गुरु ग्रह से संबंधित वस्तुएं दान में दें।

- 27 गुरुवार तक निरंतर मंदिर में गाय के घी का दीपक लगाएं।

- प्रति गुरुवार चमेली के 9-9 पुष्प नदी में प्रवाहित करें।

- अधिक से अधिक पीले रंग का खाना खाएं, जैसे आम, पपीता, बेसन से बने खाद्य पदार्थ आदि।

- पुखराज का दान करें।

- प्रति गुरुवार को व्रत-उपवास करें।
Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours