अच्छा करियर सचमुच सभी की जरुरत होता है। यह लाइन सेफ हो जाए तो जीवन की आधी प्रॉब्लम दूर हो जाती है। क्या एस्ट्रो में भी ऐसे उपाय हैं जिनको करने से करियर बनाने में मदद मिल सके? आइए देखते हैं : 

कुंडली का दसवा भाव और दसवें से दसवा यानी सातवाँ भाव नौकरी या व्यवसाय को दिखाते हैं। दसवाँ भाव ज्यादा इसके लिए जिम्मेदार होता है। आपको करना क्या है .. अपनी कुंडली का दसवाँ भाव देखिए और उसमें कौनसी राशि आ रही है उस पर ध्यान दीजिए। उस राशि का स्वामी ग्रह कौनसा है यह भी देखें। क्या यह प्लेनेट मजबूत है यानी इसके साथ कोई बुरा ग्रह तो नहीं है या किसी बुरे ग्रह की नजर तो नहीं है?

यदि ऐसा है तो ग्रह कमजोर माना जाएगा। इसी तरह यदि इस ग्रह के साथ सन है तो भी यह ग्रह अस्त यानी कम पावर का माना जाएगा। अब ऐसा ग्रह आपको सही दिशा नहीं दे सकता अतः इस ग्रह को मनाना आपके लिए जरूरी है। 

इसी तरह लगे हाथों सातवें भाव पर भी नजर डाल लें और इसके ग्रह को भी जाँच लें। अगर यह ठीक है तो आपको केवल दसवें भाव को ठीक करना है। 

नीचे सभी राशियों के देवता दिए जा रहे हैं। अपनी राशि के अनुसार देवता की आराधना करे और मनचाहा करियर पाएँ----

मेष : हनुमान जी 
वृषभ : दुर्गा माँ 
मिथुन : गणपति जी 
कर्क: शिव जी 
सिंह : विष्णु जी (श्रीराम ) 
कन्या : गणेश जी 
तुला : देवी माँ 
वृश्चिक : हनुमान जी 
धनु : विष्णु जी 
मकर : शिव जी 
कुम्भ : शिव का रूद्र रूप 
मीन : विष्णु जी (सत्यनारायण भगवान)

विशेष : संबंधित राशि के रत्न पहनने से और जप दान करने से अनुकूल फल प्राप्त होते हैं।

Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours