गुरु बनाएगा बिगड़े काम, जब करेंगे यह उपाय--विकास नागपाल 


ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुरु यानी बृहस्पति ग्रह शिक्षा का कारक होता है। जिस व्यक्ति की कुंडली में गुरु शुभ स्थिति में होता है वह उच्च शिक्षित होता है और जिसकी कुंडली में गुरु अशुभ होता है उसकी शिक्षा में बहुत बाधाएं आती हैं। इसके अलावा उसे जीवन भर मानसिक चिंता, आर्थिक हानि तथा स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी रहती हैं। यदि आपकी कुंडली में भी गुरु अशुभ है तो नीचे लिखे टोटके करें-


1- भोजन में केसर का प्रयोग करें और स्नान के बाद रोज नाभि तथा मस्तक पर केसर का तिलक लगाएं।


2- साधु, ब्राह्मण एवं पीपल के वृक्ष की पूजा करें।


3- गुरुवार को स्नान के जल में नागरमोथा नामक वनस्पति डालकर स्नान करें।


4- पीले रंग के फूलों के पौधे अपने घर में लगाएं और पीला रंग उपहार में दें।


5- गुरुवार के दिन केले के दो पौधे विष्णु भगवान के मंदिर में लगाएं।


6- गुरुवार के दिन साबूत मूंग मंदिर में दान करें और 12 वर्ष से छोटी कन्याओं के चरण स्पर्श करके उनसे आशीर्वाद लें।


7- शुभ मुहूर्त में चांदी का बर्तन अपने घर की भूमि में दबाएं और साधु संतों का अपमान नहीं करें।


8- जिस पलंग पर आप सोते हैं, उसके चारों कोनों में सोने की कील अथवा सोने का तार लगाएं।
Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours