!! क्रोध से आप परिचित हैं...परन्तु क्रोध का भी अपना भरा-पूरा परिवार है !!
********************************************
आइए !! क्रोध के परिवार का परिचय प्राप्त कीजिये...
-- क्रोध की एक लाडली बहन है जिसे जिद्द कहा जाता है. वह हमेशा क्रोध के साथ रहती है.
-- क्रोध की पत्नि का नाम है हिंसा. वैसे तो वह पीछे छिपी रहती है लेकिन कभी-कभी आवाज़ सुन...कर बाहर आ जाती है.
-- क्रोध के बड़े भाई का नाम हैं-अहंकार.
-- क्रोध के पिताश्री भी है. जिनसे वह डरता भी है. उनका नाम है-भय.
-- क्रोध की माँ का नाम उपेक्षा है.
-- क्रोध की दो बेटियाँ-निंदा और चुगली है. पहली मुँह के पास और दूसरी कान के पास रहती है.
-- क्रोध का बेटा बैर है.
-- ईर्ष्या इस खानदान की नकचढ़ी बहू है.
-- क्रोध की पोती का नाम घृणा है, जो हमेशा नाक के पास रहती है. जिसका काम नाक-भौंह सिकोड़ना है.
शायद इसलिए कहा जाता है, कि क्रोध अँधा नही सयाना होता है
- क्या आपने किसी आरोपी को न्यायाधीश के सामने क्रोध करते देखा है ?.
- क्या आपने आयकर-अधिकारी के आगे किसी व्यापारी को क्रोध करते देखा है ?.
आपने क्रोध के परिवार की विस्तार से जानकारी हासिल कर ली एवं उम्मीद है कि आप इसकी परछाई से भी दूर रहने का प्रयास करेंगे
Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours