मकर राशी (भो,जा,जी,खी,खू,खे,खो,गा,गी ) का राशिफल(2012 )----

2012 का यह राशिफल चन्द्र राशि आधारित है और वैदिक ज्‍योतिष के सिद्धान्‍तों के आधार पर तैयार किया गया है। 
नए वर्ष की शुरुआत पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर होगी | शनि देव आपको लाभ देने की स्थिति में रहेंगे  ..देव गुरु वृहस्टती का भ्रमण आपकी लिए चोथा हे जो मई-जून में पंचम भाव मन संचरण करेंगे..शनिदेव नवम भाव में हें जो बाद में कर्मभाव में चले जायेंगे...केतु पंचम भाव में विराजमान रहेंगे..परिश्रम का उचित लाभ व शुभ फल प्राप्त होगा | पुराने कर्जों व आर्थिक हानि से मुक्ति मिलेगी, परन्तु पुराने मुकद्दमे समस्या पैदा कर सकते हैं, तो बेहतर होगा की उन्हें न उठाया जाए | शिक्षा - प्रतियोगिता तथा प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों - छात्रों के लिए यह सफलता प्राप्त करने का सुनहरा समय है | जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा लेकिन सहकर्मियों से मतभेद हो सकते हैं. घर में विवाह का आयोजन हो सकता है. प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए यह सुनहरा समय है. आपने जो मेहनत का पेड़ पहले लगाया था, उसके फल खाने का वक्त आ गया है.अगर आप अपने गुस्‍से पर काबू रखेंगे तो सब आपके नियंत्रण में रहेगा. आपके शत्रु आपके इसी क्रोध का लाभ उठाने के प्रयास करेंगे.सह‍कर्मियों से मतभेद हो सकते हैं.कुछ स्वस्थ्य सम्बन्धी समस्या, शारीरिक कष्ट हो सकता है, दिनचर्या का ख़ास ध्यान रखें | सहकर्मियों से मतभेद व वाद विवाद होंगे लेकिन आपके प्रयास व हस्तक्षेप से नियंत्रित हो जायेंगे | इस अवधि के दौरान मकर राशि वालों को धन कमाने में अत्यधिक परिश्रम करना पड़ सकता है और अपने कठिन काम के माध्यम से बहुत कुछ अर्जित करेंगे. इस समय आपका लोन भी पास हो सकता है…पुराने कर्जों से मुक्ति मिलेगी, लेकिन पुराने मुकद्दमे परेशानी पैदा कर सकते हैं. शारीरिक कष्ट हो सकता है, खान-पास का ख़ास ध्यान .न रखें. मन चंचल होगा  उस पर नियंत्रण रखें. संतान की ओर से अच्‍छी खबर मिलेगी. ससुराल पक्ष की ओर से कोई सुखद समाचार मिल सकता है. नौकरी बदलने के योग है.दोस्‍तों का रवैया भी आपको परेशान कर सकता है. यह वक्‍त आपके जीवन में किसी सीख की तरह होगा. मुश्किल वक्‍त है और इसी दौरान आपको पता चलेगा कौन आपका कितना साथी है. किसी अज्ञात महिला के साथ निकटता से बचें वरना पत्नी या व्यावसायिक भागीदारों के साथ आपके संबंधों के तनाव उत्पन्न हो सकता है.
सप्तम भाव में मंगल होने के कारण विवादों से बचना ही हितकर रहेगा। जो लोग शेयर मार्केट और मशीनरी का कार्य करते है। उन्हें इस समय सावधानी बरतनी चाहिए। परिवार में मांगलिक अथवा वैवाहिक आयोजन संभव है |

स्वास्थ्य ----
आपकी खाने की आदतों में गड़बड़ी उत्पन्न हो सकती है. इसके अलावा मानसिक चिंताओं के कारण आपका पाचन तंत्र भी प्रभावित हो सकता हें..त्वचा संबंधी समस्या या एलर्जी आपको परेशान कर सकती है.सीने में दर्द कि शिकायत हो सकती है.शनि और बुध के प्रभावस्वरूप त्वचा सम्बन्धी बीमारी भी हो सकती हें..एलर्जी आपको परेशान कर सकती है.घुटने, जोड़ और शरीर की बाहरी त्वचा का विशेष ध्यान रखें.. जल का सेवन समय-समय पर करते रहें..

ये करें उपाय---
01 .--शनि देव की सेवा-पूजा-आराधना करते रहे वर्ष भर..
02 .-- छाया दान करें..शनि मंदिर में जाकर शनि देव के दर्शन करें..
03 .--पांच शनिवार तक काले तिल ,काला छाता, नीले वस्त्र,नीले फुल,लोंग तेल , काले उड़द,लोहा,चमड़े के जूते-बेल्ट  आदि का दान करें..किसी बुजुर्ग व्यक्ति को शाम के समय..
04 .--नीलम/कटेला/काला हकिक/नीलमणि/जमीनिया ..कोई भी रत्न-उपरत्न (पुष्य नक्षत्र) में परामर्श लेकर धारण करें..
05 .--शनिवार का उपवास -वृत करें..भोजन में कलि वास्तु का प्रयोग करें..
06 .--भगवन शिव की सेवा-आराशन से भी लाभ होगा,,
07 .--सात शनिवार तक चींटियों को काले तिल और उड़द खिलाएं..
08 .--शनिवार को भेरव देव  की पूजा-अर्चना करें
09 .--सात शनिवार तक बासी/खाने के बाद बची हुयी रोटियां कोंए को खिलाएं..

वास्तु और मकर  राशी के जातक--
इस राशी वाले जातकों के लिए उत्तर-पश्चिम दिशा शुभ-लाभकारी होती हें..इस राशी वाले किसी भी शहर के मध्य भाग में निवास करने से बचें..यदि इस राशी के जातक अपने मकान/आवास/भवन पर हल्का ला रंग करवाएं तो उत्तम रहेगा..

Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours