जानिए आपकी राशी का राशिफल माह--अक्टूबर 2012

(लेखक--आचार्य वाघाराम परिहार )


मेष राशि:-----
इस माह आपको अपने कार्य व्यवसाय में पूर्ण सावधानी बरतनी होगी। आपको इस माह में वाहन चलाते समय विशेष सावधानी रखने की जरूरत है। साझेदारी में किए गए कार्यो से आपको इा माह नुकसान की संभावना बन रही है। परिवार में भी इस माह अशांति रहने की संभावना है। आपसी वैर-विरोध के कारण आपको मानसिक परेशानी बनती है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर भी आप कुछ परेशानी अनुभव करेंगे। संतान पक्ष की तरफ से आपको शुभ समाचार प्राप्त होंगे। इस माह आप किसी दूर प्रदेश की यात्रा पर जा सकते हैं। यदि यात्रा व्यापारिक प्रयोजन को लेकर बनती है तो आपको सावधानी रखने की जरूरत हैं। विद्यार्थियों के लिए यह मास संघर्ष भरा रहेगा। परिवार में अपने से बडे लोगों की तरफ से आपको कुछ परेशानी रहेगी। आकस्मिक खर्च के कारण आप पर आर्थिक बोझ बढ़ सकता है। मित्र वर्ग की तरफ से अपेक्षित सहयोग प्राप्त हेगा।

उपाय:----
बजरंग बाण का प्रतिदिन पांच बार पाठ करें। चीटियों को बूरा डालें। अपने कार्यस्थल पर अभिमंत्रित व्यापार वृद्धि महायंत्र की स्थापना करें। वाहन चलाते समय सावधानी रखें। वाहन दुर्घटनानाशक कवच को अपने वाहन पर लगाकर धूप-दीप दिखायें।
वृषभ राशि:---
वृषभ राशि वालों को इस माह अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस माह आपको अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। लोगों के विरोध के कारण आपको कुछ परेशानी उठानी पडे़गी। इस माह आपके कार्य व्यवसाय में उतार-चढ़ाव की संभावना बन रही है। कार्य व्यवसाय में माल की खराबी या किसी धोखे के कारण भी आपको कुछ हानि उठानी पड़ सकती है। आपको अग्नि से इस माह सावधानी रखनी चाहिए। समस्याओं के बावजूद आकस्मिक लाभ के कारण कुछ राहत अनुभव करेंगे। इस माह आपको स्त्री वर्ग से सावधानी रखनी चाहिए। महिलाओं को इस माह आपसी विवाद के कारण कुछ परेशानियां रहेंगी। अपने परिवार में किसी वृद्ध पुरूष के स्वास्थ्य को लेकर परेशानी रह सकती है। विद्यार्थियों को इस माह मनोरंजन की अधिकता के कारण पढ़ाई में व्यवधान आ सकता है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर भी परेशान रह सकते है। राज्य की तरफ से आपको कुछ राहत प्राप्त होगी।
उपाय:----
इस माह आपको श्रीयंत्र धारण करना चाहिए। स्फटिक श्रीयंत्र को स्थापित कर पूजा अर्चना करें तो विशेष लाभदायक रहेगा। गरीब व अनाथ बच्चों की सेवा करें।
मिथुन राशि:----
आपके लिए अक्टूबर का महीना मित्रों के वैर-विरोध के कारण समस्यादायक बन रहा है। नौकर वर्ग की तरफ से आपको परेशानी रहेंगी। यदि आप किसी को अपने पास नौकरी के लिए रख रहे है तो पहले उसके बारे में ठीक से जांच-पड़ताल अवश्य करें। अपने कार्य व्यवसाय में वृद्धि का विचार कुछ समय के लिए दें। अपने अनुजों के स्वास्थ्य को लेकर कुछ परेशान रह सकते है। इस माह आपको पूर्वार्द्ध में आकस्मिक लाभ की प्राप्ति संभव है। संतान के स्वास्थ्य को लेकर परेशान रह सकते है। कार्य व्यवसाय को लेकर भी कुछ परेशानी हो सकती है। इस माह आर्थिक समस्या उतरार्द्ध में बनेगी। खर्च में कमी के उपरांत भी परेशानी रहेगी। शत्रु वर्ग के कारण मानसिक तनाव में आएंगे। इस कारण आर्थिक हानि का योग बन रहा है। माह में आकस्मिक दुर्घटना के कारण हानि उठानी पड़ सकती है। आपको कोई भी कार्य सोच समझकर एवं किसी सलाहकर की मदद के उपरांत ही करना चाहिए।
उपाय:-----
बजरंग बाण का पाठ करें। प्रतिदिन सूर्य देव को अध्र्य देकर आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें। बृहस्पति मंत्र का नित्य पांच माला जप करन लाभदायक बनता है।
कर्क राशि:-----
कर्क राशि वालों को इस माह कुछ राहत प्राप्त होगी। आपके कार्य व्यवसाय में संघर्ष के साथ सुधार होगा। कार्य व्यवसाय में अपेक्षित लाभ की प्राप्ति होगी परन्तु माह के उतरार्द्ध में खर्च की अधिकता रहेगी। इस समय आपको लाभ प्राप्ति में भी कमी रहेगी। माह के उतरार्द्ध में आर्थिेक रूप् से परेशान होना पड़ सकता है। इस माह आपको संतान की गलत आदतों के कारण परेशान होना पड़ सकता है। अपने आत्मविश्वास में कमी के कारण परेशान रह सकते हैं। माह के उतरार्द्ध में अपने पिता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। इष्ट मित्रों की तरफ से अपेक्षित सहयोग की प्राप्ति नहीं होगी। विरोधी पक्ष से आकस्मिक धोखे की संभावना बन रही है। संपति के क्रय-विक्रय के लिए व्यर्थ भगदौड़ करनी पड़ सकती है। आपको प्रेम प्रसंग में धोखा मिल सकता है। इस समय वाहन चलाते समय  अथवा किसी यात्रा पर जाने पर अपेक्षित सावधानी रखनी चाहिए। आकस्मिक दुर्घटना का योग इस माह बन रहा है। इस समय आपको माता के स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखना है। माता के स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही न बरते, अन्यथा बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।
उपाय:---
इस माह आपको चीटियों को शुक्रवार के दिन शक्कर बुरा खिलाना चाहियें। कुते को तदूंर की मीठी रोटी खिलायें। महामृत्युंजय कवच धारण करें।
सिंह राशि:-----
सिंह राशि वालों को इस माह के पूर्वार्द्ध में कार्य व्यवसाय अच्छा रहेगा व उससे लाभ भी मिलेगा। कार्य व्यवसाय मंे वृद्धि एवं विस्तार बनाने के लिए आप परिश्रम भी करेंगे। परिवारवालों की तरफ से आपको लाभ की प्राप्ति होगी। इष्ट मित्रों का सहयोग बना रहेगा। लोगों की तरफ से आंतरिक विरोध होगा। पीठ पीछे बुराई के कारण आप परेशानी अनुभव करेंगे। अचल सम्पति में विरोध के कारण भी परेशानी रहेगी। माह के उतरार्द्ध में आलस्य बनेगा। आत्मविश्वास में कमी के कारण भी आपका कार्य व्यवसाय प्रभावित होगा। जीवनसाथी से प्रेममय संबंध बनाने की कोशिश करें। धार्मिक कार्य, पूजा पाठ में वृद्धि होगी। इस माह अनावश्यक तर्क वितर्क से बचने की कोशिश करनी चाहिए। बिना सोचे-समझे किसी भी प्रकार का निर्णय नहीं लें। स्वास्थ्य की दृष्टि से माह का उतरार्द्ध आपके लिए परेशानीदायक  बना रहेगा। इस समय अपने चिकित्सक की राय अवश्य लें। राज्य कर्मचारियों को इस माह के उतरार्द्ध में स्थानान्तरण का सामना करना पड़ सकता है। अपने कर्म के प्रति पूर्णतया ईमानदार रहें। भ्रष्टाचार के आरोप आप पर लग सकते हैं, इसलिए सावधानी रख अच्छे समय का इंतजार करना चाहिए।
उपाय:-----
नित्य प्रति सूर्य भगवान को अर्ध्य  देवें। आदित्य हृदय स्तोत्र एवं श्रीसूक्त का पाठ करना लाभदायक रहेगा।
कन्या राशि:---
 इस माह आपको कार्य व्यवसाय से अपेक्षित सफलता प्राप्त होगी। इस समय आकस्मिक लाभ की प्राप्ति का योग बन रहा है। कार्य व्यवसाय अच्छा होने के उपरांत भी अपने भाग्य में कमी महसुस होगी किन्तु आत्म्विश्वास में वृद्धि होगी। आपमें महत्वाकांक्षा की भावना जागृत होगी। इस माह शेयर बाजार से आपको लाभ प्राप्ति की संभावना बन रही है। शेयर बाजार में निवेश करना आपके लिए लाभदायक रहेगा। इस समय आपकी रूचि मनोरंजन के कार्यो में बनी रहेंगी। विलासिता पर आपके खर्च की अधिकता रहेगी। संतान पक्ष की तरफ से आपको खुशखबरी प्राप्त हो सकती है। इस माह भूमि भवन की प्राप्ति भी होगी। भवन में साजो-सामान को लेकर खर्च कर सकते हैं। इस माह लेखन के प्रति रूचि बढे़गी परन्तु काॅपीराइट नियमों का उल्लघंन करने के कारण आपको कुछ समस्या हो सकती है। इस माह आपको प्रेम प्रसंग के कारण भी निराशा रहेगी। आप शत्रु पक्ष का शमन करने में समर्थ होंगे। इस माह आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ परेशानी बनती है। अचल सम्पति में इस माह निवेश नहीं करना चाहिये।
उपाय:----
शनि के मंत्र का जाप करें। इस माह शुक्रवार के दिन चीटियों को बूरा डालें। स्फटिक माला धारण करें।
तुला राशि:-----
इस माह आपको कुछ राहत प्राप्त होगी। आपके कार्य व्यवसाय में उतार चढाव बना रहेगा। अपने भाग्योदय के कारण कुछ प्रसन्नता रहेगी। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिये। इस समय ज्वर विकार एवं जमीन जायदाद के कारण परेशानी रह सकती है। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें, अन्यथा आकस्मिक दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है। संतान के कारण परेशान रह सकते है। शेयर बाजार में निवेश करना आपके लिये परेशानी का कारण बन सकता है। इस माह आपको आकस्मिक समस्या का सामना करना पड़ सकता है। साझेदार के कारण लाभ की प्राप्ति बनी रहेगी। संगीत एवं नृत्य के क्षेत्र में कार्य करने वालों के लिये यह माह परेशानीदायक बन रहा है। अपने इष्ट मित्रों का अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने के कारण भी आप परेशान रह सकते है। माता-पिता का कमजोर स्वास्थ्य आपके लिये परेशानी का कारण बन रहा है। आपकी आर्थिक स्थिति सामान्य रहेगी। परिवार में विवाद होने के पश्चात् भी शांति बनी रहेगी। इस माह आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण करना चाहिये अन्यथा व्यर्थ वाद-विवादों का सामना करना पड़ सकता है।
उपाय:-----
इस समय शनि मंत्र का जाप करें। सूर्य भगवान को अध्र्य देकर आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें। श्रीयंत्र धारण करना एवं पूजा उपासना लाभदायक रहेगी।
वृश्चिक राशि:-----
आपके लिये यह मास मिश्रित फलदायक बन रहा है। आपके स्वास्थ्य में ताजगी एवं सुधार होगा। मानसिक रूप से आपको इस माह कुछ परेशान होना पडेगा। इस माह आप कोई भी निर्णय जल्दबाजी में नही लें अन्यथा परेशानी उठानी पड़ सकती है। इस माह के पूर्वार्द्ध में आपको कठिन संघर्ष के पश्चात् सामान्य सफलता ही प्राप्त हेगी। आपके कार्य व्यवसाय में कोई न कोई अवरोध बना रहेगा। इष्ट मित्रों के असहयोगात्मक व्यवहार के कारण भी आप परेशान रहेंगे। लोगों से विवाद की स्थिति बन रही है। माह के उतरार्द्ध में आपको कार्य व्यवसाय में समस्या बढ़ जायेगी। इस समय खर्च में अधिकता के कारण भी आप परेशान रह सकते है। परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य को लेकर आपको समस्या बन रही है। राज्य की तरफ से चार्जशीट अथवा स्थानांतरण का सामना करना पड़ सकता है। साझेदारी में लाभ की प्राप्ति सामान्य रहेगी। विद्यार्थियों के लिये यह समय कठिन परीक्षा का है। नृत्य एवं संगीत के क्षेत्र में कार्य करने वालों को भी परेशानी उठानी पडेगी।
उपाय:-----
शनि मंत्र ओम प्रां प्रीं प्रौं सः शन्यै नमः का जाप करें। सूर्य भगवान को अध्र्य देकर आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें। गोमेद धारण करें।
धनु राशि:----
धनु राशि वालों को इस माह आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस माह का पूर्वार्द्ध कुछ राहत भरा रहेगा परन्तु उतरार्द्ध में आर्थिक स्थिति कमजोर होगी। इस माह आपके कार्य व्यवसाय में संघर्ष बना रहेगा। माह के पूर्वार्द्ध में राज्य पक्ष की तरफ से धन एवं मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। इस माह साझेदारी से आपको लाभ प्राप्त होगा। अपने कार्य व्यवसाय में वृद्धि के लिये कर्ज लेना पड़ सकता है। माह के उतरार्द्ध में परिवार एवं इष्ट मित्रों का सहयोग नहीं मिल पायेगा। शत्रु पक्ष के कारण कुछ परेशानी अवश्य बनी रहेगी। इस माह अपने स्वास्थ्य की नर्मी के कारण आप परेशान रह सकते हैं। इस समय यात्रा करते समय आपको सावधानी बरतनी चाहिए। खर्च में अधिकता बन रही है। संतान पक्ष पर आपको खर्च करना पड़ सकता है। शेयर बाजार में निवेश से अपेक्षित लाभ की प्राप्ति नहीं हो पायेगी। नृत्य-संगीत के क्षेत्र में कार्य करने वालों को उतरार्द्ध में कुछ समस्या बनती है। इस माह जमीन जायदाद में विवाद के कारण कोर्ट-कचहरी जाना पड़ सकता है। प्रेम प्रसंग के कारण बदनामी उठानी पड़ सकती है। माह के उतरार्द्ध में माता-पिता के कमजोर स्वास्थ्य के कारण परेशान हो सकते है। अपनी वाणी एवं आचार-विचार को अच्छा रखें।
उपाय:----- 
हनुमान चालिसा का पाठ करें। सूर्य भगवान को अध्र्य देवें। केसर का तिलक लगायें।
मकर राशि:-----
मकर राशि वालों को इस माह कार्य व्यवसाय में संघर्ष बना रहेगा,परन्तु संघर्ष के पश्चात् लाभ की अपेक्षित प्राप्ति होगी। इस माह आप उदर विकार के कारण कुछ परेशान रह सकते है। संतान पक्ष के कारण भी परेशान रहेगी। वाद विवाद की स्थिति भी बन रही है। इस समय आपको प्रेम प्रसंग के कारण निराशा हो सकती है। प्रेम प्रसंग को लेकर विवादों का सामना भी करना पड़ सकता है। शेयर बाजार में निवेश करना आपके लिये हानिकारक बन रहा है। इसलिये निवेश करने बचें वरना आपको धोखा,आकस्मिक हानि उठानी पड़ सकती ह। इस माह आपकी अचल सम्पति में इस माह आप अपने कार्य का विस्तार सुदूर क्षेत्र में कर सकते है। इष्ट मित्रों एवं भाईयों का अपेक्षित सहयोग प्राप्त होता रहेगा। ज्योतिष क्षेत्र में कार्यरत लोगों को कुछ राहत प्राप्त होगी। खिलाडियों के लिये भी यह मास शुभ रहेगा। संगीत,नृत्य के क्षेत्र में कार्य करने वालों को कुछ संघर्ष करना पडेगा। इस माह जीवनसाथी से अनबन रह सकती है। इस माह अनिद्रा के कारण कुछ परेशानी हो सकती है। अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिये।
उपाय:------- 
शुक्रवार के दिन चीटियों को बूरा डालें। कटेहला धारण करें। शनि मंत्र ओम शं शन्यै नमः का जाप करें।
कुंभ राशि:------
आपके लिये यह माह परेशानीदायक बन रहा है। आपको पूर्णतः सावधानी बरतनी चाहिये। इस माह आपको साझेदार की तरफ से निराश होना पड़ सकता है। साझेदार से मधुर संबंध बनाने की कोशिश करें। अन्यथा साझेदारी टूट सकती है। आप अपने स्वयं के कार्य को किसी भी प्रकार से करते रहें्रे। इस माह आपकी आर्थिक स्थिति में भी उतार-चढाव बन रहा है। इसके उपरांत भी आपमें आत्मविश्वास की कमी होगी। अपने माता-पिता के स्वास्थ्य को लेकर परेशानी बनी रहेगी। शेयर बाजार में निवेश करने से लाभ की प्राप्ति होगी। संतान पक्ष की तरफ से भी खुशखबरी प्राप्त होगी। इस माह आप प्रेम प्रसंग को लेकर उत्साहित रहेंगे। नृत्य एवं संगीत के क्षेत्र में कार्यरत लोगों को लाभ प्राप्ति होगी। इष्ट मित्रों का अपेक्षित सहयोग मिलने से भी आपके काम बनते जायेंगे। आपके आर्थिक स्थिति में सामान्य वृद्धि ही रहेगी। इस समय आप पारिवारिक मतभेद को लेकर परेशान रह सकते है। अपनी वाणी को मधुर बनाने की कोशिश करें। राज्य पक्ष की तरफ से भी परेशानियां बनी रहेंगी।
उपाय:----- 
सूर्य भगवान को अध्र्य देवें एवं आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें। श्रीयंत्र की पूजा-अर्चना करें। बृहस्पति यंत्र धारण करें।
मीन राशि:-----
मीन राशि वालों के लिये इस माह भी कोई विशेष राहत प्राप्त नहीं होगी। इस माह कार्य व्यवसाय में अत्यंत संघर्ष रहेगा। धन की कमी के कारण परेशान रहेंगे परन्तु कर्ज द्वारा धन की व्यवस्था हो जायेगी। इस माह आपको संतान पक्ष की तरफ से भी परेशानी रहेगी। प्रेम प्रसंग के कारण बदनामी भी झेलनी पड़ सकती है। यदि आप कोई नया कार्य शुरू करना चाहें तो आपको शुभ समय का इंतजार करना चाहिये अन्यथा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। राज्य पक्ष की तरफ से भी माह में परेशानियां उठानी पडें़गी। आप पर रिश्वतखोरी का आरोप भी लग सकता है, इसलिये सतर्क होकर ईमानदारी से कार्य करना चाहिये। नृत्य एवं संगीत के क्षेत्र में कार्यरत लोगों को परेशानी रहेगी। इष्अ मित्रों का अपेक्षित सहयोग नही मिलने से आपको महत्वपूर्ण निर्णय सोच-समझकर लेना चाहियें। वात विकार के कारण परेशानी हो सकती है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सामान्य सुधार होगा। इस माह आपको यात्रा करते समय सावधान रहना चाहिये अन्यथा दुर्घटना का सामना करना पड़ सकता है।
उपाय:----- 
शनि मंत्र ओम शं शन्यै नमः का जाप करें। सूर्य भगवान को अध्र्य देवें एवं आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें। बुधवार को गाय को हरा चारा खिलायें।
Share To:

पंडित "विशाल" दयानन्द शास्त्री

Post A Comment:

0 comments so far,add yours